हर सुभह

हर सुभह जब आकाश खिलता है सूरज निकलता है,खुशबु भर देता है  नयी ताज़गी से मेरे ह्रदय के दरवाजे पर … More

एहसास

तुम न हो आसपास तो अधूरा सा लगता है दिल पर एक पत्थर सा हो ऐसा लगता है कैसे करू … More